रुप के जाल फेसवुक के कमाल

रुप के जाल फेसवुक के कमाल

फेसवुक मे हुकार जन्म मिति १९९५ सेक्टम्वर २५ उल्लेख बा। नेपाल के ठेगाना चितवन रहल हुकार फेसवुक के प्रोफाइल मे हाल उ काठमाडौ के नाया बजार बैठना डेखगील बा। हुकार फेसवुक के वाल योवन ले १७ बरषे जाेवन रहल देख जाइत। टिका के काहे नाइ सेक्जाइ पाठक वृन्द उ बथिनिया गाेह्रर गाेह्रर बाटी टाेन फेन हुकार वर्णन करे वेर……..। ठुल ठुल गाेरक अङ्गी उज्जर उज्जर सुर्वाल के उपरे से ठुल हुइ कहिके अनुमान करे सेक्ना जान अा कब्ली अस वरवर चप्पर पुठठा। गुल्यार गुल्जार चार फिट लम्बा जीउ गाेरा सहित सह्रे पाच फिट ध्याङ्ग बाटीअस्टक हुकार टाइट कसरत उप्रेसे डेखा परना भख्खरिक उठल कछल्यार कछल्यार छाटी नम्मा घेचा खाेव मीठ गीत गैना अस डेखा परठीन हुकार गुलयार गुल्यार मुह अाे गाल खाेव गाेह्रर चप्पर माथ हिमाल के हिउ से उज्जर दात करिया भाउ खैयार खैयार अाखी पुठ्ठा नघल भुट्ला देख के हुइ २५ बरष के विवाहित एक युवा मुम्बई मे सेक्युरिटी गार्ड मे काम करके कमाइल १७ लाख रुपैयाँ उरादेनै रुप रङ्ग के धनि यि लवन्डीहे  जीवन सघरिया बनैना लाेभ मे फास के एक अाैर युवक २९ लाख खर्च करके यी लवन्डी से भ्वाज फे करनाइ।
नेपाल मे सन्तान अाे जन्नी रहती रहती भर्खर के जाेवन चह्रल यि १७ बरष के बथिनिया भेटाके मख्ख हुइटी चिप्पेसे मन्दिर मे भ्वाज करके१३ महिना सङ्गे बैठसेक्ले बातै।पाेलीस प्रशासन के अनुसन्धान के अधिकारीन के अनुसार साेनिया के जाल मे परल यि दुई युवन के सम्पर्क अाे सम्बन्ध बलगार बनाइना सम्पर्क सुत्र फेसवुक हाे। यि दुनुजनहन से संघरिया बन्ना डिजिटल प्रस्ताव साेनिया पठाइल बिलगट अाे प्रस्ताव कर्ता लवन्डीक फेसवुक प्रोफाइलके  अाधार मे यि दुनु जे संघरिया बन्ना प्रस्ताव स्वीकार करती जीवन जाेरिया सम बने पुगल अनुसन्धान कर्ता हुक्रे बटैठै।मुम्बई मे सेक्युरिटी गार्ड करके १७ लाख खर्च करल २५ बषिय भ्वाज करल युवा राम के परिच १८ महिना अागे हुइल देख जाइत। फेसवुक मे साेनियाक संघरिया बन्ना प्रस्ताव स्वीकार करल लगत्तै राम अाे साेनिया यि दुइ बीच घन्टाै च्याट हुइ लगलीन। साेनियाक डिजिटल बात बत्वाइना तरिका से राम अकरसीट हुइ जाइत।
डिजिटल बात चित से दिल दे बैठल साेनिया अाे राम बहुत लाग्गे हाेसेकल रहल बिलगट। अचनाक साेनिया राम ताेहान बिना बाचे नाइ सेकम मै फे हाजुर के वाहा सङ्गे बैठना मन लागल बतैथिन टे राम तत्काल अापन वाहा भरात के मुम्बाइ मीरा राेड बालालेहत, अाउ……. कहती।सेक्युरिटी गार्ड के काम करके कमाइल धन खर्च करटी साेनिया हे पैसा पठादेहत। साेनिया अाेहे पैसा से मुम्बई जैठी।अब अाेहा साेनिया चलगैलीटे बात स्वाभाविक बा पक्कै दुनु जाने संङगे बैठलै।याेवन अाे रुप से अाेजरार सोनिया हे पाके राम मख्ख। हा सङ्गे बैठना क्रम मे नेपाल मे सन्तान अाे जन्नी रहटी रहटी भर्खर के जाेवन चह्रल यि १७ बरषे बथिनिया भेटा के चिप्पेसे इन्डिया बाेलाके मन्दिर मे सिन्दुर पाेटे करल देख जाइत।
करिब १३ महिना दुनु जे थारुवा मेरुवा के रुप मे सङ्गे बैठल अनुसन्धान मे देख जाइत। राम अाे साेनिया के थारुवा जान्नी बनके बैठाइके क्रम मे एक दिन सानिया अापन जलम देहुइया डाइ सीकिस्ट बेमार रहल कहटी महिन हे भेट करे जाइ परि कहटी प्रस्ताव करल देख जाइत। राम माेर डाइ बहुट बिमार बा महिन नेपाल जाइ परि। अतरा मे राम प्रत्याइगैल देख जाइत। नेपाल अाइना सवाल मे साेनिया करिब करिब ५ लाख जतरा रुपियाँ लैके नेपाल पुगल देख जाइत। दिन दुगुना रात चौगुना करटी बिट्टी गैल करिब तिन महिना पाछे साेनिया राम हे नेपाल बलाइट ।राम नेपाल अाइ परल डाइ विटगैल। माेर अागे पाछे कहना डाइ किल राहे विटगैल। थारुवा के रुप मे टु बटाे नेपाल अाउ हाजुर के घर बैठव। अतरा मे राम के दिमाग मे नेपाल मे सन्तान अाे जन्नीके याद अाइठीस अाे लगत्तै फाेन सम्वाद मे साेनिया हे घर नै लैजाके कोठा भाडा मे बैठैना साेचत।
राम के मुम्बई से अाइना से पहिले साेनिया यहा रुप के दाेसार जाल टिकापुर के २१ बरष के लवन्डा के फेसवुक नाेटिफिकेसन अलटमे संघरिया बन्ना नेउता पठा सेक्ले रठिन। संघरिया बन्ना प्रस्ताव पठुइया साेनिया के प्रोफाइल पिक्चर हेरल लगत्तै टीकापुर के २१बरषे युवा के अङ्गी नाइ रुकल स्वीकार करलेहल। संघरिया बनाइल दिन से सुरु हुइगैल डिजिटल बातचित। बातचित के करिब एक महिना के भित्र साेनिया यि २१ बरषे युबक के मनमे प्रबेश करसेक्ले रठिन। समान्य बात चित माया प्रेम मे चल गैल देख जाइत। यहा रुप के दाेसर जाल अाे फेसवुक के कमाल मे साेनिया नेपाल के काठमाडौं के नाया बजार बैठके टीकापुर के २१बषिय युवा ड्राइवार के रुप मे लुकाइ काम करटी रहल देख जाइत। भ्वाज करके सङ्गे बैठना के रुप मे अाे यि युवा भ्वाज करके संग्गे दुवाइ जैना प्रस्ताव मे पुस अन्तिम अन्तिम यि टिका पुर के २१ बरषे सागर नेपाल अाइत। दुवाइ से अाइना सागर हे लेहे साेनिया पुस २८  गाते साेनिया त्रिभुवन विमान स्थल रहिन। तव दुनु जाने एक अाैरे हे अंकमाल करठै।अाे हाेटल अाेर जाइठै।
अनुसन्धान अधिकरिन के अनुसार सागर अाे साेनिया यि दुनु जाने सात दिन हाेटल मे संग्गे बैठल देखजाइत।
सात दिन हाेटल मे बैठना क्रम मे सागर अाे साेनिया करिब तीन लाख रुपैयाँ बराबरके सपिङ्ग करल देख जाइत यि सात दिन बैठना क्रम मे एक दिन न्यज मे सागर दुवाइ से काठमाडौ टक अाइल अाे सात राेज हाेगैल घर पुगल नाइ हाे कहिके समाचार देखठीन कि सागर के घर परिवार के मनै सागर हे खाेजतिन कहिके टाे बहाना लगैटी अापन परिवार नेपाल गञ्ज रहल अाे घर अाेर जैना बतैठीन। अतरा मे सागर राजी हाेजाइत। साेनिया नेपाल गञ्ज के चाेक मे उतर के एकठाे घर देखैती अाेहारी चलजैठी।अाे सागर अापन घर अाेर लागत।
नेपाल गञ्ज अाे टिकापुर के बसाई मे सागर अाे साेनिया विच फाेन मे घन्टा भरभर बात हुइन। दिन दुगुना रात चौगुना करटी विट्टी रहट कुछ दिन बात सानिया के घर वस्ताव मे काठमाडौं के नाया बजार नाइ अाे नेपाल गञ्ज फे नाइ चितवन के रहठी।सागर हे बटैठी कि अब मै काठमाडौ नाया बजार काेठा लैके बैठल बाटु कहिके अाे बैठ्ठी फे बैठना क्रम मे सागर साेनिया हे दुबाइ लैजैना कहिके भीसा के लाग काठमाडौ के मेनपावर के चक्कर मे रहट। अाे भेटघाट करटी रहट। याहे क्रम मे एक दिन साेनिया भ्वाज करना प्रस्ताव अागे सरठी।
पहिले ते सागर लुकझुकाइट तर साेनिया हे गुमाइना डर से  परिवार हे विना पत्ता देले बैशाख १ गते पशुपति मन्दिर पुगके भाेज करके सिधा साेनिया बैठल भाडा लैके रुम पुग के घर बेटी हे चकित बनादेलीन साेनिया -करण अचम्म परना जहा कि साेनिया फे भ्वाज करल जानेवा हुइ जेकार एक सात बर्षिय छावा लरका रिहान काठमाडौ के एक बाेडिङ्ग स्कुल मे कक्षा चार मे पह्रठिन। अाे चितवन घर रहल थारुवाक एक वरवार कपडा के गरमेनट पसल बटिन। अाे काठमाडौ मे अप्नेफे मस्टर शिक्षा अर्जन करटी रहल बिलगजाइट। जहा कि मै फे अपन भ्वाज करेवेर हुकार थारुवाक पसल से काेट लैके घल्नु।
कुछ दिन वाद सागर काठमाडौंसे अपन घर टीकापुर लैके जाइत। सागर के घर परिवार सम्पन्ना अाैर समाज मे माजा प्रतिष्ठा रहल  बतिन छावा पताेहिया बनाइल लवन्डी सुग्घर बाटी ।भ्वाज हुइगैल कहटी अाेइने फे समाजिक परम्परा अनुसार भ्वाज फे करदेहल पत्ता लागत। एहाेर  मुम्बई से ५  महिना के बाद अाइटी रहल राम सन्तान अाे बरकी जन्ननी छाेर के साेनियाक संग अलग बैठना साेच मे राहे। साेनिया से फेसवुक मे बात चित हुइटी रहिस। अचानक फेसवुक के वाल मे साेनिया के दुलही के रुप सहित के स्टाटस अपडेट हुइत( अाइ एम ह्याप्पी अल दि टाइम, अाइ जस्ट टु वी ह्याप्पी) दुलाही के रुप मे साेनिया के उ फाेटाे मुम्बई के सेक्युरिटी गार्ड करुइया राम से भ्वाज करल फाेटाे नाइ रहे बल्की फाेटाे  रहे  पशुपति नाथ मन्दिर काठमाडौ मे सागर से करल भाेज के रहे।
यि सव देखके जहा साेनिया के उप्पर १७ लाख रुपैयाँ खर्च करल याद करके वेहाेस हुइल बिलगत। अाे गाउ चितवन के थारुवाक फे पत्ता चलगैल बतिन। अब राम अापन १७ लाख रुपैयाँ खर्च करल अाे भाेज करल छुट्की जन्नी साेनिया के घर  खाेज्टी अाइल देख परठ टे अापन चितवन के थारुवा रिपाेट करे प्रशासन कार्यालय पुगठीन। अनुहार छावाक एक लाैटी निणर्य मे भ्वाज करल सुग्घर पताेहिया भित्रयाइल परिवार मे भुइचाल अाइल देख जाइत अनुसन्धान मे………।
समाज केे सम्ने भ्वाज करल टिकापुर के सागर अाे परिवार हे भुला के साेनियाक रुप अाे याेवन मे घर परिवार हे भुला के कमाइल सक्कु सम्पत्ति जाेखिम मे दरल दुनु जे राम अाे सागर भ्वाज के प्रमाण के रुप मे फाेटाे सहित अाे साेनिया के पहिल थारुवा चितवन के विवाह दर्ता के प्रमाण सहित महाशाखा मे उजुरी दर्ता करल पाछे पाेलिस प्रशासन अनुसन्धान अाघे बह्रैले बा…..।महानगरीय पाेलीस अपराध अनुसन्धान महाशाखा ठागी सम्बन्ध के घट्ना के अनुसन्धान करना शाखा के पाेलीस अधिकारी हाे बृद्ध बृद्ध बलबलिका तथा महिला खाेज तलास केन्द्र (महिला सेल) लगायत मानव हकहित सम्बन्धी काम कारुइया अधिकारी एक हप्ता से कानुन के पन्ना पल्टैना मे वेस्ट बातै।
घट्ना के प्रकृति अनुसार नेपाल के ठागी अाे विहेवारी सम्बन्ध मे कानुन अनुसार जानेवा के उप्पर थारुवा के ठागी उजुरी लागे नाइ सेक्ना प्रवधान के करण पाेलीस प्रशासन के बहस टुगााे लागे सेकल नाइ हाे। मुलुकी एेन विहेवारी सम्बन्धी प्रवधन मे बहुविवाह सम्वन्धी कानुन लागे सेक्ना बुदा पाेलिस प्रशासन फेला परले बा। तर महिला के विरुद्ध वाहुविवाह के अराेप अाे अनुसन्धान के तरिका न्यून देख जाइत। साेनिया हे अापन जन्नी कहती पाेलीस प्रशासन मे दबी सहित के निवेदन परल पाछे साेनिया के खाेजी मे खटल पाेलिस प्रशासन साेनिया भाग के अापन फेसवुक के संघरिया के घर माला खेती कञ्चन पुर पत्ता लगैले बा। निवेदन अाइल एक हप्ता हुइगैल। काैन कानुन काैन अराेप मे साेनिया हे अनुसन्धान के लाग कञ्चनपुर से नन्ना हाे कना बात मे दुइ मत रहलक अाेरसे साेनिया अनुसन्धान के दयारा से बहेर बतिन।
चितवन के पहिला थारुवा अाे मुम्बई के दाेसार थारुवा सहित टिकापुर वाला तेसार थारुवा के भेटघाट हुइल लगत्तै फरार साेनिया सम्पर्क मे अासेकल बतिन। मुम्बई से अाइल राम रुप अाे याेवन के जाल मे डुवके १७ लाख रुपैयाँ पैना अास मे महाशाखा के चक्कर कट्टी बातै।अाे सागर के घर परिवार फे भ्वाज के क्रम मे अाे चार काेठा के पक्की घर  श्रृगार पसल खाेलके खर्च करल २९ लाख रुपैयाँ के माया मरके कानुनी रुप मे सम्बन्ध टाेरना छटपटाइटी बाटै।यि दुनु जाने यि जाल से कैसिक निकरना अभिन सम किनारा नाइ लागल हुइन। कालेसे साेनिया अापन डाइ बाबा के देहाल पहिला थारुवा से डिभाेर्स के लाग अदालत के चक्कर मे बतिन…………।
                     सन्जीप चाैधरी
  कैलारी गाउँ पलिका -६, बनाैली कैलाली