लजाके हेर्ना तोहार बानी गज्जब के लागल।

लजाके हेर्ना तोहार बानी गज्जब के लागल।

लजाके हेर्ना तोहार बानी गज्जब के लागल।
गड्रयाइल जिउ उ जवानी गज्जब के लागल।

कट्कुइया फुलल जैसिन खुलल तोहार मुहार,
मिठ चवन्नी मुस्कानके खानी गज्जब के लागल।

आघे पाछे बटै लजर लगुइयनके लाइन फेें हेरो,
मैयक नाफामे तोहार लगानी गज्जब के लागल।

बनाइल अर्घटहा तोहार उ टिरछी लजरसे यहाँ,
छोरलो मुटुम बाणके निशानी गज्जब के लागल।

सिकार बनल हस बा अपनहि उ सिकारी फेन टे,
कहुँ बनट कि नै हेरो इ कहानी गज्जब के लागल।

संगम कुस्मी।