हिरगरके २३ औँ भाग ओ फगुइ मिलन कार्यक्रम

हिरगरके २३ औँ भाग ओ फगुइ मिलन कार्यक्रम

हिरगर सम्वाददाता
धनगढी, ८, चैत

    हिरगर साहित्यिक बगाल यसपालि फगुइ मिलन कार्यक्रम कर्ना हुइलबा । थारुनके परम्परा अन्तर्गत पर्ना तिहुवार मनसे यी फेन एकठो बरो चैनार ओ मैगर तिहुवारके रुपमन मानजाइट , यीहे परम्परा बँचैना अभियान स्वरुप हिरगर साहित्यिक बगाल यसपाला यीहे चैत १० ओ ११ गतेक दिन फागुमिलन कार्यक्रम कर्ना निर्णय कर्लेबा । जतबर जात बोक्सीन ओ जातछोट जात लैलहा कना कहकुट अनुसार यी तिहुवारहे लैलाह तिहुवारके रुपमन फेन लैजाइट । मने हिरगर साहित्यिक बगालके निर्णयमन हम्रे सभ्य ओ भव्य तरिकासे मनैनाचाहिकना मान्यता अनुसार हिरगरके उपाध्यक्ष प्रेमा चौधरीहे सचेतक के जिम्मा देति हमार फगुइ कार्यक्रम भर कोइफेन जाँरदारु, लैलैना, जबरजस्ति अबिर रंगनैलगैना वस्तहिके कत्ना समयसम एकघर मन फग्वैना कना वहा सुचना दिहिँ ।
      हमार दिन प्रतिदिन भाषा, साहित्य, सँस्कार, चालचलन दिनानुदिन हेरैतिगिल अवस्थामन हिरगर साहित्यिक बगाल अबखरिक हिरगर साहित्यिक बगालके भाग २३ औँ ओ फागुमिलन कार्यक्रम कर्ना हुइलबा । वस्तहिँके हिरगर साहित्यिक बगाल के यी उठल पैसासे नेपालकै पहिल थारु साहित्यिक वैवसाइट बिकासमन सहयोग कर्ना उद्देश्य बनैलेबा । धनगढी उपमहानगरपालिका ओ अत्तरिया नगरपालिकामन कार्यक्रम कर्ना हिरगरके अध्यक्ष हिरालाल सत्गौँवा बटैनै । वस्तहिँके आर्थीक के जिम्मा कोषाध्यक्ष गंगाराम डगौँराके जिम्मा रहलबा । यी खुशि बँटना टिहुवार हुइलेकमारे आइ सक्कुजाने मिलके राहरंगीकरि अपन दुःख बिँसाके जाइ ओ खुशिबँटलेसे खुशिमिलट कटि आम सक्कु दादु भैया, काकाबरापु, दिदी बहिन्या, परदेशके कोन्वमबैठल अपन प्रियभुमिके यादकरटिरहल सक्कु जहान मैगर ढुरहेरिक फगुइक शुभकामनाफेन देलेबा ।