सरम कर‍ो….

नेतनके लक सिटामोल मे फेन “छुट “चलठ यहाँ।
गरिबन अस्पताल भर्ना करेक लाग “गुट “चलठ यहाँ।

सरम करो,महामारीमे कुर्सी छिनाछिन काहे,
अक्सिजन,दवाबुटी खरिदमे “लुट” चलठ यहाँ।

सिलिण्डर,राशनपानीमे चुनावी परचार कर्टै,
ई देशमे भ्रष्टचार नेतनके एक “जुट “चलठ यहाँ।

राजनिती हो कि बच्चन के बुक्रिभाँरा,
कुर्सिक लोभमे पार्टी भित्रे “फुट” चलठ यहाँ।

चुनाउके गन्ध पाके चपरासिन फेन डन बनगिलै,
कुर्सिक पावरमे डाक्टर उप्पर लट्ठि “वुट”चलठ यहाँ।

प्रबिन बौखही
कैलारी ५,बैसपुर कैलालि